Archive | February 2021

You are browsing the site archives by date.

शांतिकुंज में फरवरी 1986 का वसंत पर्व Part 1

ऑनलाइन ज्ञानरथ की ओर  से 1  मार्च 2021  की सुप्रभात एवं शुभ दिन की कामना  फरवरी 1986  का वसंत एक ऐतिहासिक वसंत था। परमपूज्य गुरुदेव दो वर्ष की  सूक्ष्मीकरण साधना के उपरांत अपने बच्चों के समक्ष उद्बोधन कर रहे थे। अगर हम उस सारे के सारे उद्बोधन को आपके समक्ष प्रस्तुत करें तो एक लघु […]

9 फरवरी 1978  को दिया गया गुरुदेव का उद्बोधन -पार्ट 2

27 फरवरी 2021  का ज्ञान प्रसाद  आज का लेख कल वाले लेख का दूसरा और अंतिम भाग है। गुरुदेव ने यह उद्बोधन 9  फरवरी 1978  को दिया था। और “गुरुवर की धरोहर पार्ट 1” से लिया गया है।  गायत्री के जो सात लाभ बताए गए हैं- ‘स्तुता मया वरदा वेदमाता प्रचोदयंतां आयुः प्राणं प्रजां पशं […]

9 फरवरी 1978 को दिया गया गुरुदेव का उद्बोधन -पार्ट 1

26  फरवरी 2021  का ज्ञानप्रसाद  मित्रो ,आज का ज्ञानप्रसाद हमें दो भागों में बाँटना पड़ेगा। पहले भाग की  ज्ञानगंगा की डुबकी आप आज लगायेंगें और दूसरा भाग कल प्रस्तुत करेंगें। यह लेख “गुरुवर की धरोहर पार्ट 1” में से लिया गया है। चार भागों  में प्रकाशित  इस  सीरीज  में गुरुवर के उद्बोधन reproduce  किये गए […]

शांतिकुंज में यज्ञशाला के सामने अंकित हैं यह अंतिम सन्देश

23  फरवरी  2021 का ज्ञान प्रसाद  परमपूज्य गुरुदेव के महाप्रयाण पर आधारित हमारा 21 फरवरी वाला लेख आप सभी ने बहुत ही पसंद किया ,सराहा। बहुत से परिजनों के हृदयविदारक कमेंट भी पढ़े  और अपने विवेक के अनुसार जहाँ तक हो सका  उत्तर भी दिए।   इसके लिए सभी का ह्रदय से धन्यवाद्।  उसी लेख […]

पूज्यवर का महाप्रयाण- वह अविस्मरणीय क्षण

21 फ़रवरी 2021  का ज्ञानप्रसाद  पूज्यवर का महाप्रयाण- वह अविस्मरणीय क्षण   गायत्री जयंती के इन पुण्य पलों में युग शक्ति के प्रेरक प्रवाह से जन-मन अभिसिंचित है। भावनाएँ उन भगीरथ को ढूँढ़ रही है, जिनके महातप से गायत्री की प्रकाश धाराएँ बहीं। महाशक्ति जिनके प्रचंड तप से प्रसन्न होकर इस युग में अवतरित हुई। वेदमाता […]

गुरुदेव के ऊपर 1985 का जानलेवा हमला

19  फ़रवरी 2021  का ज्ञानप्रसाद  ऑनलाइन ज्ञानरथ के परिजनों को हमारा अभिनंदन आभार :   गुरुदेव के ऊपर 1985  का  जानलेवा हमला पूज्य गुरुदेव का शरीर जन्मजात दुर्बल था। शारीरिक बनावट की दृष्टि से उसे दुर्बल कह सकते हैं, जीवन शक्ति तो प्रचंड थी ही। जवानी में बिना शाक, घी, दूध के 24 वर्ष तक जौ […]

परमपूज्य गुरुदेव के आध्यात्मिक जन्मदिवस की हार्दिक शुभकामना 2021

आज का ज्ञानप्रसाद : साथियो , आज  फ़रवरी माह की 16 तारीख है और  2021  का वसंत पर्व।  सभी को इस पावन पर्व की ढेर सारी  शुभ  कामना।  आज का लेख बहुत ही संक्षिप्त है परन्तु हमने  अपनी रिसर्च के द्वारा इस दिन की महत्ता को चित्रित करने का प्रयास किया है। इस लेख में […]

युगतीर्थ शांतिकुंज है महाकाल का घोंसला – परमपूज्य गुरुदेव के शब्दों में

11  फरवरी 2021  का ज्ञानप्रसाद  आज का ज्ञानप्रसाद हमने फरवरी  2021 माह की अखंड ज्योति पत्रिका से चुना है।  हम सभी शांतिकुंज जाते हैं ,वहां का दिव्य वातावरण भी अनुभव करते हैं,  गायत्री मंदिर के पास  ऋषि क्षेत्र में भी  जाते हैं।  नवयुग की गंगोत्री बड़े- बड़े sign  बोर्ड भी देखते हैं। कितने सौभाग्यशाली हैं […]

हमारे गुरुदेव के मार्गदर्शक -दादा गुरु स्वामी सर्वेश्वरानन्द जी पार्ट -2

6 फरवरी  2021  का ज्ञानप्रसाद  आज का ज्ञानप्रसाद दो लेखों की श्रृंखला का दूसरा और अंतिम   लेख है। दो लेखों में विभाजित करने का एकमात्र कारण लेख की सीमा ही है।  हमारे लेख प्रायः 4-5  पन्नों के ही होते हैं।  इनको इस तरह सीमाबद्ध करने का एक ही कारण है कि  जो कोई भी […]

हमारे गुरुदेव के मार्गदर्शक -दादा गुरु स्वामी सर्वेश्वरानन्द जी -part 1

5 फरवरी  2021  का ज्ञानप्रसाद  आज का ज्ञानप्रसाद दो लेखों की श्रृंखला का प्रथम लेख है। दो लेखों में विभाजित करने का एकमात्र कारण लेख की सीमा ही है।  हमारे लेख प्रायः 4-5  पन्नों के ही होते हैं।  इनको इस तरह सीमाबद्ध करने का एक ही कारण है कि  जो कोई भी इसको पढ़े  ह्रदय […]

मालवीय जी द्वारा स्त्रियों के लिए वेदाधिकार पर लिया गया निर्णय

4 फ़रवरी 2021 का ज्ञानप्रसाद  स्त्रियों को वेद-मन्त्रों का अधिकार है या नहीं? इस प्रश्न को लेकर काशी के पण्डितों में पर्याप्त विवाद हो चुका है। हिन्दू विश्वविद्यालय काशी में कुमारी कल्याणी नामक छात्रा वेद कक्षा में प्रविष्ट होना चाहती थी पर प्रचलित मान्यता के आधार पर विश्वविद्यालय ने उसे दाखिल करने से इन्कार कर […]

गायत्री मंत्र की शक्ति पर लेखों की श्रृंखला -पार्ट 4

1 फरवरी 2021 का ज्ञानप्रसाद सर्जरी के बाद ऑनलाइन ज्ञानरथ का प्रथम ज्ञानप्रसाद अपनी knee सर्जरी पर जाने से पूर्व 5 जनवरी 2021 को ” गायत्री मंत्र की शक्ति पर लेखों की श्रृंखला ” पर तीसरा लेख लिखा था। उसी श्रृंखला की कड़ी में प्रस्तुत है चौथा लेख। यह लेख देखने में बहुत ही छोटा […]