Archive | November 2020

You are browsing the site archives by date.

युग तीर्थ शाँतिकुँज का वातावरण

30 नवम्बर 2020 का ज्ञानप्रसादसुप्रभात और शुभदिन की कामनागायत्री तीर्थ शांतिकुंज हम में से बहुत लोग जा चुके हैं और इसके दिव्य वातावरण से परिचित भी हैं लेकिन ऐसे भी बहुत होंगें जो इस युगतीर्थ को एक धर्मशाला व पर्यटन स्थल मानते हों । इच्छा हो रही थी कि अपने परिजनों को दिखाएँ कि इस […]

परमपूज्य गुरुदेव के कुछ अवस्मरणीय पल

28 नवम्बर 2020 का ज्ञानप्रसाद 2 जून 1990 को गुरुदेव के स्वेच्छा से महाप्रयाण के उपरांत ब्रह्मवर्चस रिसर्च सेंटर के कार्यकर्ताओं ने एक अद्भुत प्रयास करके अखंड ज्योति पत्रिका का स्पेशल अंक निकाला। 200 पन्नों यह अंक सारे का सारा परमपूज्य गुरुदेव पर ही आधारित था। हमने इस अंक को कई बार पढ़ा और फिर […]

गुरुदेव मौन साधना में क्यों गए ?

21 नवम्बर 2020 का ज्ञान प्रसाद आज का ज्ञानप्रसाद चेतना की शिखर यात्रा 1 पर आधारित है। श्रद्धेय डॉक्टर प्रणव पंड्या और ज्योतिर्मय द्वारा तीन अंकों की यह अद्भुत पुस्तक श्रृंखला अपने में बहुत कुछ कहती है। तीनो अंक ऑनलाइन उपलब्ध हैं और hard copies भी बहुत कम मूल्य पर उपलब्ध हैं। हमने इन तीनो […]

परमपूज्य गुरुदेव और पंडित लीलापत शर्मा जी की आसाम यात्रा का शिक्षण

15 नवम्बर 2020 का ज्ञानप्रसाद ऑनलाइन ज्ञानरथ का आज का लेख ” गुरुदेव के मार्मिक संस्मरण ” पुस्तक पर आधारित है। इस लेख में आप गुरुदेव और पंडित लीलापत शर्मा जी के बीच हुए वार्तालाप का अध्यन करेंगें। पंडित जी गुरुदेव के उन शिष्यों में थे जिन्हे गुरुदेव एवं माता जी अपना बेटा ही मानते […]

परम पूज्य गुरुदेव के जन्म पर उनकी माता जी के स्वप्नों का विवरण

आज 10 नवम्बर ,2020 का ज्ञानप्रसाद पंडित लीलापत शर्मा जी द्वारा लिखित पुस्तक ” प्रज्ञावतार हमारे गुरुदेव ” के चैपटर 2 पर आधारित है। जब गुरुदेव का अवतरण इस धरती पर हुआ तो उनकी माता जी को नौ महीनों तक अलग-अलग स्वप्न आते रहे। उन्हें कैसे दिव्यता का ,दिव्य वातावरण का आभास होता रहा उन्ही […]

पंडित जी द्वारा लिखित एक और पुस्तक में से आज का ज्ञानप्रसाद

7 नवम्बर, 2020 का ज्ञानप्रसाद आज का लेख पंडित लीलापत शर्मा जी की लिखित पुस्तक ” प्रज्ञावतार हमारे गुरुदेव ” के चैपटर 2 पर आधारित है। हर लेख की तरह इस लेख को भी सरल बनाने की दृष्टि से कुछ editing की है लेकिन इस बात की पूर्ण ख्याल रखा है कि original कंटेंट पर […]

गंगातट की फिज़ा बदलने,जुटे गुरु के मतवाले श्रीराम का सेतु बनाने , भले पांव में हों छाले निकल पड़ें हैं मतवाले ,निकल पड़े हैं मतवाले

3 नवम्बर 2020ऑनलाइन ज्ञानरथ के सहकर्मियों को सुप्रभात एवं शुभ दिन की कामना पिछले कई दिनों से इस वीडियो को आपके समक्ष लाने का प्रयास था ,इसको बार -बार देखा ,बार- बार इसके कंटेंट पर मनन किया। प्रयास था कि हमारे गायत्री परिवार के मुखिया पर आजकल के गतिरोध को किस प्रकार इस वीडियो से […]