trikha48

एक ही दिन में मिले तीन जीवनदान :रमेशचन्द्र शुक्ल मस्तीचक, (बिहार)

17 अप्रैल 2021 का ज्ञानप्रसादपिछले कुछ दिनों से ऑनलाइन ज्ञानरथ के पाठकों और सहकर्मियों द्वारा दिए गए कमैंट्स से विदित हो रहा है कि आपको महामहिम ,आदरणीय शुक्ला बाबा जी के बारे में जानने की अत्यंत जिज्ञासा है। हम भी उतने ही उत्साहित हैं लेकिन प्रतिदिन बाबा जी के बारे में इतनी जानकारी मिल रही […]

अखंड ज्योति आई हस्पताल- एक प्रेरणादायक कथा –Part 2

12  अप्रैल  2021 का ज्ञानप्रसाद  आशा करते हैं कि हमारे समर्पित और सूझवान सहकर्मियों के ह्रदय में अखंड ज्योति आई हस्पताल के बारे में पृष्ठभूमि बन गयी होगी। हमारा सात मास का अथक प्रयास तभी सफल होगा जब हमारे  सहकर्मियों के ह्रदय में परमपूज्य गुरुदेव द्वारा घड़ित  शिष्यों का समर्पण उभर कर प्रेरणा देगा और […]

अखंड ज्योति आई हस्पताल -एक प्रेरणादायक कथा Part 1

11  अप्रैल 2021का ज्ञानप्रसाद  पार्ट 1  मृतुन्जय तिवारी जी  की कहानी आप सब के समक्ष रखते हुए अति हर्ष हो रहा है क्योंकि यह इतनी प्रेरणादायक और उत्साहवर्धक है कि जब हमने पहली बार इसको देखा तो आश्चर्यचकित हो गए कि ऐसा भी हो सकता है। हम अपने पाठकों और सहकर्मियों को बताना चाहते हैं […]

परमपूज्य गुरुदेव द्वारा लिखे गए एक अनमोल पत्र का स्क्रीनशॉट – पत्र पाथेय पन्ना 7

9 अप्रैल 2021 का ज्ञान प्रसाद हमारे, आप सबके ज्ञानरथ के समर्पित सहकर्मियों को नमन ,वंदन के साथ ,आज का ज्ञान प्रसाद परमपूज्य गुरुदेव की अनुकम्पा और मार्गदर्शन में केवल 2 पत्रों पर ही आधारित है। यह दोनों अनमोल पत्र परमपूज्य गुरुदेव द्वारा अपने अनुचर पंडित लीलापत शर्मा जी को 9 और 18 अगस्त 1961 […]

2 जून 1990 की ऐतिहासिक गायत्री जयंती ( मई 2002 अखंड ज्योति )

7 अप्रैल 2021 का ज्ञानप्रसाद आपके कमैंट्स से विदित हुआ है कि परमपूज्य गुरुदेव के महाप्रयाण वाले लेख को आप सबने बहुत पसंद किया। इस समर्थन के लिए सभी सहकर्मियों का,पाठकों का ह्रदय से नमन,वंदन। इसी समर्थन से उत्साहित और प्रेरित होकर हम आज आपके लिए महाप्रयाण पर आधारित एक और लेकर आये हैं। हर […]